The Vedic Age (1500-600 BC)[वैदिक युग (1500-600 ईसा पूर्व)]

early vedic

VEDIC CIVILIZATION[वैदिक सभ्यता]

INTRODUCTION [परिचय]

  1. By 1700 BCE, Harappan Civilization had collapsed. In northwest India, scattered village communities engaging in agriculture and pastoralism replaced the dense and more highly populated network of cities, towns, and villages of the third millennium.[1700 ईसा पूर्व तक, हड़प्पा सभ्यता का पतन हो गया था। उत्तर पश्चिम भारत में, कृषि और देहाती क्षेत्रों में उलझे हुए बिखरे हुए गाँव समुदायों ने शहरों, कस्बों और तीसरी सहस्राब्दी के गाँवों के घने और अधिक आबादी वाले नेटवर्क की जगह ले ली।]
  2. The rest of northern India too (including the Ganges River), as well as the entire subcontinent, were similarly dotted with Neolithic communities of farmers and herders.[शेष उत्तर भारत भी (गंगा नदी सहित), साथ ही पूरे उपमहाद्वीप, किसानों और चरवाहों के नवपाषाण समुदायों के साथ इसी तरह बिंदीदार थे।]
  3. The next stage in India’s history is the Vedic Age (1700 – 600 BCE). This period is named after a set of religious texts composed during these centuries called the Vedas.[भारत के इतिहास में अगला चरण वैदिक युग (1700 – 600 ईसा पूर्व) है। इस अवधि का नाम इन सदियों के दौरान रचे गए धार्मिक ग्रंथों के एक समूह के नाम पर रखा गया है जिसे वेद कहा जाता है।]

The Vedic civilization is divided into phases- Rig Vedic or early Vedic period (1500-1000 BC) and later Vedic period (1000-600 BC).[वैदिक सभ्यता को दो चरणों में विभाजित किया गया है- ऋग वैदिक या प्रारंभिक वैदिक काल (1500-1000 ईसा पूर्व) और बाद में वैदिक काल (1000-600 ईसा पूर्व)।]

Early Vedic period[प्रारंभिक वैदिक काल]

early vedic
  1. Monarchical form of government with a king known as Rajan.[उस समय सरकार के एक राजा के रूप में राजतंत्र के रूप में जाना जाता है]
  2. Patriarchal families. Jana was the largest social unit in Rig Vedic times.[पितृसत्तात्मक परिवार। जन ऋग वैदिक काल की सबसे बड़ी सामाजिक इकाई थी।]
  3. Social grouping: kula (family) – grama – visu – jana.[सामाजिक समूहन: कुला (परिवार) – ग्राम – विसू – जन।]
  4. Tribal assemblies were called Sabhas and Samitis.[जनजातीय सभाओं को सभा और समितियाँ कहा जाता था।]
  1. Women enjoyed a respectable position. They were allowed to take part in Sabhas and Samitis. There were women poets too (Apala, Lopamudra, Viswavara and Ghosa).[महिलाओं ने एक सम्मानजनक स्थिति का आनंद लिया। उन्हें सभा और समितियों में भाग लेने की अनुमति थी। महिला कवि भी थीं (अपाला, लोपामुद्रा, विश्ववारा और घोसा)।]
  2. There was no child marriage.[बाल विवाह नहीं था।]
  3. Social distinctions existed but were not rigid and hereditary.[सामाजिक भेद मौजूद थे, लेकिन कठोर और वंशानुगत नहीं थे।]
  1. They practised agriculture.[उन्होंने कृषि का अभ्यास किया।]
  2. They had horse chariots.[उनके पास घोड़े रथ थे।]
  3. Rivers were used for transport.[नदियों का उपयोग परिवहन के लिए किया जाता था।]
  1. They worshipped natural forces like earth, fire, wind, rain, thunder, etc. by personifying them into deities.[उन्होंने पृथ्वी, अग्नि, वायु, वर्षा, गड़गड़ाहट आदि प्राकृतिक शक्तियों की पूजा करके उन्हें देवताओं का रूप दिया।]
  2. Indra (thunder) was the most important deity. Other deities were Prithvi (earth), Agni (fire), Varuna (rain) and Vayu (wind).[इंद्र (वज्र) सबसे महत्वपूर्ण देवता थे। अन्य देवता पृथ्वी (पृथ्वी), अग्नि (अग्नि), वरुण (वर्षा) और वायु (वायु) थे। ]

 

Later Vedic Period (1000 BC – 600 BC)

vedic - late period
  1. Kingdoms like Mahajanapadas were formed by amalgamating smaller kingdoms.[महाजनपद जैसे राज्य छोटे राज्यों को मिला कर बनाए गए थे।]
  2. King’s power increased and various sacrifices were performed by him to enhance his position.[राजा की शक्ति में वृद्धि हुई और उसकी स्थिति को बढ़ाने के लिए उसके द्वारा विभिन्न बलिदान किए गए।]
  3. Sacrifices were Rajasuya (consecration ceremony), Vajapeya (chariot race), and Ashwamedha (horse sacrifice).[बलिदान राजसूय (अभिषेक समारोह), वाजपेय (रथ दौड़), और अश्वमेध (घोड़े की बलि) थे।]
  4. The Sabhas and Samitis diminished in importance.[सभाओं और समितियों का महत्व कम हो गया।]
  1. The four divisions of society in decreasing social ranking were: Brahmanas (priests), Kshatriyas (rulers), Vaishyas (agriculturists, traders, and artisans), and Shudras (servers of the upper three classes).[सामाजिक रैंकिंग को कम करने में समाज के चार विभाग थे: ब्राह्मण (पुजारी), क्षत्रिय (शासक), वैश्य (कृषक, व्यापारी और कारीगर), और शूद्र (ऊपरी तीन वर्गों के सर्वर)।]
  2. Women were not permitted to attend public assemblies like Sabhas and Samitis. Their position in society diminished.[महिलाओं को सभाओं और समितियों जैसी सार्वजनिक सभाओं में जाने की अनुमति नहीं थी। समाज में उनकी स्थिति कम हो गई।]
  3. Child marriages became common.[बाल विवाह आम हो गया।]
  4. Sub-castes based on occupation also emerged. Gotras were institutionalized.[कब्जे पर आधारित उप-जातियां भी सामने आईं। गोत्रों को संस्थागत रूप दिया गया।]
  1. Prajapati (creator) and Vishnu (preserver) became important gods.[प्रजापति (निर्माता) और विष्णु (अध्यक्ष) महत्वपूर्ण देवता बन गए।]
  2. Indra and Agni lost their significance.[इंद्र और अग्नि ने अपना महत्व खो दिया।]
  3. The importance of prayers diminished and rituals and sacrifices became more elaborate.[प्रार्थनाओं का महत्व कम हो गया और अनुष्ठान और बलिदान अधिक विस्तृत हो गए।]
  4. The priestly class became very powerful and they dictated the rules of the rites and rituals. Because of this orthodoxy, Buddhism and Jainism emerged towards the end of this period.[पुरोहित वर्ग बहुत शक्तिशाली हो गया और उन्होंने संस्कारों और अनुष्ठानों के नियमों को निर्धारित किया। इस रूढ़िवाद के कारण, बौद्ध धर्म और जैन धर्म इस अवधि के अंत में उभरे।]
  1. Agriculture was the chief occupation.[कृषि मुख्य व्यवसाय था।]
  2. Industrial work like metalwork, pottery, and carpentry work also was there.[धातु कार्य, मिट्टी के बर्तनों और बढ़ईगीरी जैसे औद्योगिक काम भी वहाँ थे।]
  3. There was foreign trade with far-off regions like Babylon and Sumeria.[बेबीलोन और सुमेरिया जैसे दूर-दराज के क्षेत्रों के साथ विदेशी व्यापार था।]

VEDIC TEXT:[वैदिक पाठ:]

  • The most important source of Vedic literature are Vedas, through which we come to know about the early life of Aryans. [वैदिक साहित्य का सबसे महत्वपूर्ण स्रोत वेद है, जिसके माध्यम से हमें आर्यों के प्रारंभिक जीवन के बारे में पता चलता है।]
  • The Vedic text consists of three successive classes of literary creations those are:[वैदिक पाठ में साहित्यिक रचनाओं के तीन क्रमिक वर्ग शामिल हैं:]
  1. Vedas, which are the collection of hymns, prayers, charms, litanies and sacrificial formulae.[वेद, जो भजनों, प्रार्थनाओं, मंत्रों, वादियों और यज्ञीय सूत्रों का संग्रह हैं।]
  2. The Brahmanas, which contain details about the meaning of hymns, their application, stories of their origins.[ब्राह्मण, जिसमें भजनों के अर्थ, उनके अनुप्रयोग, उनकी उत्पत्ति की कहानियों के बारे में विवरण होता है।]
  3. Aranyakas and Upanishads, the Aranyakas (literally forest treatises), and the Upanishads (sitting down beside) are mainly appendices to the Brahmanas. These are also known as the Vedanta (end of the Veda) and contain philosophical discussions.[अरण्यक और उपनिषद, अरण्यक (वस्तुतः वन ग्रंथ), और उपनिषद (बगल में बैठना) मुख्य रूप से ब्राह्मणों के परिशिष्ट हैं। इन्हें वेदांत (वेद का अंत) के रूप में भी जाना जाता है और इसमें दार्शनिक चर्चाएँ हैं।]




Click here to read facts about Vedic age[वैदिक युग के बारे में तथ्य पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें ]

CONCLUSION[निष्कर्ष]

  1. In conclusion, by the end of the Vedic Age, northern India had undergone immense changes.[अंत में, वैदिक युग के अंत तक, उत्तरी भारत में भारी बदलाव आया था।]
  2. An Aryan civilization emerged and spread across the Indo-Gangetic Plains.[एक आर्य सभ्यता भारत-गंगा के मैदानों में उभरी और फैली।]
  3. This civilization was characterized by the Brahmin’s religion (Brahmanism), the use of Sanskrit, and the varna social system. The simpler rural life of the clans of earlier times was giving way to the formation of states, and new religious ideas were being added to the evolving tradition known today as Hinduism.[इस सभ्यता में ब्राह्मण धर्म (ब्राह्मणवाद), संस्कृत का उपयोग और वर्ण सामाजिक व्यवस्था थी। पहले के समय के कुलों का सरल ग्रामीण जीवन राज्यों के गठन का मार्ग प्रशस्त कर रहा था, और आज के हिंदू धर्म के रूप में ज्ञात परंपरा में नए धार्मिक विचारों को जोड़ा जा रहा है।]
 

-: Practice Questions[अभ्यास प्रश्न] :-

QUESTIONS FOR PRACTISE[अभ्यास के लिए प्रश्न]:-

  1. Who were the Aryans?[आर्य कौन थे?]
  2. Where did the Aryans at first settle in India? [आर्यन भारत में पहली बार कहाँ बसे थे?]
  3.  From where the Aryans came to India?[आर्य भारत में कहाँ से आए थे?]
  4. What was the earliest literature of the Aryans?[आर्यों का सबसे पहला साहित्य कौन सा था?]
  5. How many Vedas are there?[वेद कितने हैं?]
  6. What are the Brahmans?[ब्रह्मण क्या हैं?]
  7. What are the Upanishads?[उपनिषद क्या हैं?]
  8. What does the word Vid’ mean?[विद शब्द का क्या अर्थ है?]




 

 

Thank you !!

Learn with Ease

धन्यवाद

Leave a Comment